ई-संवादी2019-03-11T15:06:32+05:30

कोरोना से जूझते समय में साहित्यकार दिविक रमेश ‘बैठे-बैठे’ कर रहे पुरानी यादों को जिंदा

By |March 27th, 2020|Categories: ई-संवादी|

नई दिल्लीः राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र जब कोरोना वायरस के चलते लॉक डाउन जैसी स्थिति से गुजर रही है, तब हमारे समय के चर्चित कवि दिविक रमेश अपने समय का सदुपयोग [...]

लखीमपुर खीरी में कवियों की चेतावनी, ‘कोरोना तू जो खेल खेल रहा है खेल नहीं पायेगा’

By |March 27th, 2020|Categories: ई-संवादी|

लखीमपुर खीरीः स्थानीय गोला गोकर्णनाथ में मोहम्मदी रोड स्थित नई बाई पास के साईं मैरिज हाल में राधेश्याम कनौजिया व रीना कनौजिया की स्मृति में विशाल कवि सम्मेलन एवं होली [...]

नहीं रहे चित्रकार, लेखक सतीश गुजराल, जिनकी खामोशी भी बोलती थी

By |March 27th, 2020|Categories: ई-संवादी|

नई दिल्लीः चित्रकार, मूर्तिकार, लेखक और वास्तुकार सतीश गुजराल नहीं रहे. 94 साल की उम्र में उनका निधन हो गया. बहुमुखी प्रतिभा के धनी सतीश गुजराल का जन्म 25 दिसंबर, [...]

सुषम बेदी के जाने की खबर से हिंदी साहित्य जगत मर्माहत, लेखक जगत ने किया याद

By |March 23rd, 2020|Categories: ई-संवादी|

हिंदी साहित्य लगातार अपने समर्पित सेवकों को खो रहा है. अभी प्रेम भारद्वाज को गए बहुत समय नहीं बीता कि अब सुषम बेदी के जाने की खबर आ गई. हिंदी [...]

ये लेखक मानते हैं कि साहित्य हो या शासन, धर्म से बचना मुश्किल

By |March 23rd, 2020|Categories: ई-संवादी|

नई दिल्लीः क्या वाकई धर्म का शासकों ने हमेशा इस्तेमाल किया है? या यह केवल इक्कीसवीं सदी में आया जब अलग- अलग देश इस्लामिक और ईसाई राष्ट्रों में बंटे हैं [...]

मुझे विश्वास है यह पृथ्वी रहेगी…केदारनाथ सिंह की पुण्यतिथि पर नमन

By |March 19th, 2020|Categories: ई-संवादी|

मुझे विश्वास है यह पृथ्वी रहेगी यदि और कहीं नहीं तो मेरी हड्डियों में यह रहेगी जैसे पेड़ के तने में रहते हैं दीमक जैसे दाने में रह लेता है [...]

निर्मल चंद निर्मल की 21वीं काव्य कृति ‘जगत मेला चला चल’ का विमोचन

By |March 19th, 2020|Categories: ई-संवादी|

सागरः हिंदी साहित्य सम्मेलन के तत्त्वावधान सागर के वरिष्ठ कवि निर्मल चंद निर्मल की 21वीं काव्य कृति 'जगत मेला चला चल' का विमोचन स्थानीय आदर्श संगीत महाविद्यालय में आयोजित कार्यक्रम [...]

आनंद नारायण मुल्ला के व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर साहित्य अकादमी का परिसंवाद

By |March 18th, 2020|Categories: ई-संवादी|

नई दिल्ली: साहित्य अकादमी ने प्रख्यात उर्दू शायर आनंद नारायण मुल्ला के व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर एक परिसंवाद का आयोजन किया. इस कार्यक्रम में आनंद नारायण मुल्ला की पौत्री डॉ [...]